God Status - God Quotes in Hindi

 

God Status - God Quotes in Hindi !!! हम भले ही अलग अलग धर्मों को मानते हो पर सुबह उठते ही उस भगवन अल्लाह को जरूर याद करते हैं आज कल व्हाट्सप्प और फेसबुक पर स्टेटस अपडेट करने का चलन है हम इस पोस्ट में आपके लिए गॉड स्टेटस , भगवन स्टेटस इन हिंदी ,गोड़ कोट्स की कलेक्शन लेकर आये हैं उम्मीद है आपको पसंद आएगी 

god status in hindi

God Status - God Quotes in Hindi


मनुष्य की धार्मिक वृत्ति ही उसकी सुरक्षा करती है।

 

जय माँ वैष्णो देवी..पहाडा वाली..ज्योता वाली॥

 

 जय जय श्री गणेश रिद्धि सिद्धि के दाता

 

 बाबा साई तेरा धाम अति प्यारा,बहती यहाँ भक्ति रस धारा।

साई नाम का जिसने लिया सहारा,जीवन बगियाँ को साई ने खूब सँवारा

 

गणपति बाप्पा मोरया॥

 

राधा रानी जी…बस इतनी सी आरज़ू है मेरी…

कि आपके चरणों में ज़िन्दगी की शाम हो …राधे राधे

 

राधा रानी जी…बस इतनी सी आरज़ू है मेरी…

कि आपके चरणों में ज़िन्दगी की शाम हो …राधे राधे

 

जय माँ कालिका ….अपनी कृपा करो माँ चामुण्डे

 

।।गुरु ब्रह्मा गुरु विष्णु गुरु देवो महेश्वरः।।

।।गुरु साक्षात् परब्रम्हा तस्मै श्री गुरुवे नमः।।

 

मंगल मूर्ति राम दुलारे, आन पड़ा अब तेरे द्वारे, हे बजरंग बलि हनुमान, हे महावीर करो कल्याण।

 

हृदय में “शिव” करे सदा वास,

मंगलमय हो सबके काज.

 

जो डूबते हैं महाकाल की मस्ती में,

चार चाँद लग जाती हैं उनकी हस्ती में

 

ना पैसा लगता हैं ना ख़र्चा लगता हैं,

राम-राम बोलिए बड़ा अच्छा लगता हैं.

 

शब्द-शब्द में ब्रम्हा हैं, शब्द-शब्द में सार,

शब्द सदा ऐसे कहो जिनसे उपजे प्यार.

 

नियत अच्छी हो तो, भक्ति भी सच्ची होती हैं,

भगवान हर हृदय में हैं, घरो में रखने की जरूरत नही होती हैं.

 

इतना सच्चा हो हमारा विश्वास,

हमारे हृदय में ” श्री राम” सदा करे वास.

 

पांच पहर काम (कर्म) किया, तीन पहर सोए,

एको घड़ी न हरी भजे तो मुक्ति कहाँ से होए

 

देवो के देव, महादेव आपसे हैं विनती,

मेरी भी हो, आपके ख़ास भगतो में गिनती.

 

मन तुलसी का दास हैं, वृन्दावन हो धाम,

साँस-साँस में राधा बसे, रोम-रोम में श्याम.

 

ईश्वर से कुछ मांगने पर न मिले तो,

उससे नाराज ना होना क्योकि ईश्वर वह नही देता,

जो आपको अच्छा लगता है बल्कि वह देता है,

जो आपके लिए अच्छा होता है।

 

हमें ईश्वर से नहीं,

अपने आप से डरना चाहिए!!

क्योंकि पाप हम करते हैं, ईश्वर नहीं

 

 सिर्फ पूजा-हवन से भगवान नहीं मिला करते,

भगवान की प्राप्ति के लिए मन में दयाभाव व

इंसानों के प्रति करूणा, विनम्रता भी होनी चाहिए!

 

 यह जीवन ईश्वर का अमूल्‍य उपहार है

इसे व्‍यर्थ न गंवाओ…

 

 कहते हैं जिन्‍दगी का आखरी ठिकाना

ईश्वर का घर है, कुछ अच्‍छा कर ले मुसाफिर

किसी के घर खाली हाथ नहीं जाते है।

 

 हे ईश्वर मुझे अधिक लेने के लिए नहीं,

अधिक देने के योग्‍य बनाओ…

 

 

 ईश्वर हमें कभी सजा नहीं देते, 

हमारे कर्म ही हमें सजा देते हैं!

 

 Us Din Humari Sari Pareshaniya Khatm Ho Jayegi,

Jis Din Humein Yakeen Ho Jayega Ki…

Humra Sara Kaam Ishwar Ki Marzi Se Hota Hai

 

 उस दिन हमारी सारी परेशानियाँ ख़त्म हो जायेगी,

जिस दिन हमें यकीन हो जाएगा की हमारा

सारा काम ईश्वर की मर्जी से होता है

 

 मालिक पर भरोसा रख अपने गमों की नुमाइश न कर, जो तेरा है वो चल के आएगा तेरे दर पे, रोज़ उसे पाने की ख़्वाहिश न कर ।

 

 प्रभु के सामने जो झुकता है, वह सबको अच्छा लगता है, लेकिन जो सबके सामने झुकता है, वह प्रभु को भी अच्छा लगता है।

 

 इस जगत में जिसे छूटना है, उसे कोई बाँधनेवाला नहीं है। और जिसे जगत से बंधना है, उसे तो भगवान भी नहीं छुड़ा सकते ।

 

 आलसी लोगो के काम के लिए ही भगवान ने ‘कल’ का निर्माण किया है।

 

 भगवान से निराश कभी मत होना, संसार से आशा कभी मत करना।

 

 भगवान से जुड़ने का सर्वोत्तम मार्ग ‘ध्यान’ और ‘प्रार्थना’ हैं इन्हे ज़रूर अपनाये ।

 

 में अँधेरे में ईश्वर के साथ चलना पसंद करूंगी बजाय अकेले उजाले में चलने के

 

 I would rather walk with God in the dark than go alone in the light.


Don’t look for God in the sky; look within your own body.

 

You can tell the size of your God by looking at the size of your worry list. 

The longer your list, the smaller your God.

 

God Quotes About Life


धर्म के उन व्यापारियों से तो वो दूकानदार अच्छे है,


जो गीता, कुरान और बाइबल को एक साथ सजा कर रखते है…


#God_Status




मैं हिंन्दू हूँ तू मुसलमान,


मैं भी परेशान, तू भी परेशान


तेरे बच्चे भी भूखे,


मेरे बच्चे भी भूखे


लेकिन मंदिर भी आलिशान और


मस्जिद भी आलिशान




भगवान से न डरो तो चलेगा लेकिन कर्मों से जरूर डरना


क्योंकि, किये हुए कर्मों का फल तो भगवान को भी भोगना पड़ता है…




फुर्सत नहीं इंसान को घर से मंदिर तक जाने की,

और ख्वाहिशे रखता है श्मशान से सीधा स्वर्ग जाने की…

ईश्वर कहते है उदास न हो मैं तेरे साथ हूँ
सामने नहीं आसपास हूँ,
पहलकों को बंद कर और दिल से याद कर
मैं कोई ओर नहीं
तेरा विश्वास हूँ…


Don’t look for God in the sky; look within your own body


नहीं मांगता ऐ ईश्वर कि, जिंदगी 100 साल की दे,दे भले चंद लम्हों की, लेकिन बेमिसाल की दे…


 

God Quotes in hindi

 

ईश्वर एक वृत है जिसका केंद्र हर जगह है और परिधि कहीं नहीं है

 

अगर आप ईश्वर को खोजना चाहतें है तो, अपने विचारों के बीच में छूटे हुए स्थान में देखिये

 

ईश्वर को आसमान में मत खोजो, उसे अपने अन्दर देखो।

 

ईश्वर की कोई परिभाषा नहीं हो सकती। वह तो पूरी डिक्शनरी से भी बहुत बड़ा है

 

ज़िन्दगी ईश्वर का उपन्यास है। ईश्वर को उसे लिखने दीजिये

 

अल्लाह हमारी दुआओं को तब भी समझता है, जब उन्हें कहने के लिए हमारे पास लफ्ज़ नहीं होते हैं।

 

रब का वादा तो सितारों की तरह हैं, जितनी काली रात होगी, वे उतना ही ज्यादा तेज़ चमकेगें।

 

ईश्वर को समझना आसन हैं, जब तक की आप उसकी व्याख्या करने की कोशिश न करें।

 

कहा जाता है की ईश्वर हर जगह पर मोजूद है, फिर भी हम उसे एकांत में रहने वाला मानते हैं

 

विश्वास के साथ बुनना शुरू करो और ईश्वर धागा ढूंढ देगा

 

प्रार्थना तब होती है जब आप परमात्मा से बात करतें हैं,

 ध्यान तब होता है जब आप इश्वर को सुनते हैं।

 

में जानती हूँ की परमात्मा मुझे एसी कोई चीज़ नहीं देगा जिसे में संभाल ना सकूँ, 

में तो बस यह इच्छा करती हूँ की वह मुझ पर ज्यादा भरोसा ना करे।

 

परमात्मा की इच्छा मार्गदर्शक नहीं है वो तो एक भाव, एक प्रवृति है

 

लोग खुदा को हर दिन देखतें हैं, वे सिर्फ उसे पहचानतें नहीं

 

में हमेशा सोचता हूँ की ईश्वर को जानने का सबसे अच्छा तरीका है बहुत सी चीजों से प्यार करना।

 

आप,अपनी चिंताओं का आकार देखकर,

अपने ईश्वर के आकार को जान सकते हो, 

जितनी लम्बी आपकी लिस्ट होगी, उतना छोटा आपका ईश्वर होगा

 

तुम जो भी हो वह ईश्वर का तुम्हे उपहार है, 

तुम क्या बनते हो यह तुम्हारा, ईश्वर को उपहार है।

 

ईश्वर हम मे से हर एक को ऐसे प्यार करता है जैसे केवल हमारा ही अस्तित्व हो।

 

हर शाम को में अपनी चिंताएं ईश्वर को सोंप देती हूँ, वेसे भी वो तो रात भर जगता ही रहता है

 

ईश्वर हम सब के दिलों में है, और जो उसे खोजतें हैं, उसे पा लेंगे, जब उन्हें ईश्वर की सबसे ज्यादा ज़रुरत होगी।

 

साधारण दिखने वाले लोग ही दुनिया के सबसे अच्छे लोग होते हैं : 

यही वजह है कि भगवान ऐसे बहुत से लोगों का निर्माण करते हैं.

 

मैं निराकार हूँ और सर्वत्र हूँ.

 

मेरा काम आशीर्वाद देना है.

 

मैं किसी पर क्रोधित नहीं होता. 

क्या माँ अपने बच्चों से नाराज हो सकती है? क्या समुद्र अपना जल वापस नदियों में भेज सकता है ?

 

पूर्ण रूप से ईश्वर में समर्पित हो जाइये.

 

यदि तुम मुझे अपने विचारों और उद्देश्य की एकमात्र वस्तु रक्खोगे , तो तुम सर्वोच्च लक्ष्य प्राप्त करोगे.

 

प्रभु के लिए खुशियों के गीत गाओ, 

प्रभु के नाम की सेवा करो, और उसके सेवकों के सेवक बन जाओ.

 

तेरी हजारों आँखें हैं और फिर भी एक आंख भी नहीं ; तेरे हज़ारों रूप हैं फिर भी एक रूप भी नहीं.

 

उसकी चमक से सबकुछ प्रकाशमान है.

 

मेरा जन्म नहीं हुआ है; भला मेरा जन्म या मृत्यु कैसे हो सकती है

 

नहीं रहना चाहिए. बिना गुरु के कोई भी दुसरे किनारे तक नहीं जा सकता है.

 

भगवान एक है, लेकिन उसके कई रूप हैं. 

वो सभी का निर्माणकर्ता है और वो खुद मनुष्य का रूप लेता है.

 

ना मैं एक बच्चा हूँ , ना एक नवयुवक, ना ही मैं पौराणिक हूँ, ना ही किसी जाति का हूँ.

 

मैं तुम्हे एक नया आदेश देता हूँ: एक दूसरे से प्रेम करो.

 जैसे मैंने तुमसे प्रेम किया है, तुम एक दूसरे से प्रेम करो- यीशु मसीह

 

स्वर्ग में और पृथ्वी पर सारे अधिकार मुझे दिए गए हैं

 

मेरी दृष्टि हमेशा उनपर रहती है जो मुझे प्रेम करते हैं.

 

तुम जो भी करते हो, तुम चाहे जहाँ भी हो, हमेशा इस बात को याद रखो: 

मुझे हमेशा इस बात का ज्ञान रहता है कि तुम क्या कर रहे हो.

 

अपने गुरु में पूर्ण रूप से विश्वास करें. यही साधना है.

 

मैं अपने भक्त का दास हूँ.

 

मेरी शरण में रहिये और शांत रहिये. मैं बाकी सब कर दूंगा.

 

सारे धर्म इंसानों द्वारा बनाये गए हैं.

 

निर्माण केवल पहले से मौजूद चीजों का प्रक्षेपण है

 

मैं हर एक वस्तु में हूँ और उससे परे भी. मैं सभी रिक्त स्थान को भरता हूँ.

 

यदि कोई अपना पूरा समय मुझमें लगाता है और मेरी शरण में आता है तो उसे अपने शरीर या आत्मा के लिए कोई भय नहीं होना चाहिए.

 

मैंने भगवान् और मानवता को नाराज़ किया है क्योंकि मेरे काम में वो गुणवत्ता नहीं आ पायी जो आनी चाहिए थी।

 

भगवान् का अलग से कोई अस्तित्व नहीं है . हर कोई सही दिशा में सर्वोच्च प्रयास कर के देवत्त्व प्राप्त कर सकता है .

 

भगवान प्रत्येक वस्तु में है और सबके ऊपर भी.

 

जो कोई भी जिस किसी भी देवता की पूजा विश्वास के साथ करने की इच्छा रखता है , मैं उसका विश्वास उसी देवता में दृढ कर देता हूँ

 

मैं अपने लोगों के बारे में दिन रात सोचता हूँ. मैं बार-बार उनके नाम लेता हूँ.

 

मेरा मानना ​​है कि आज मेरा आचरण सर्वशक्तिमान निर्माता की इच्छा के अनुसार है.

 

मैं जिन चीजों से गुजरा हूँ और जिस असाधारण तरीके से मेरे शरीर ने प्रतिक्रिया की वह अद्भुत है.

 

मैं ईश्वर के साथ शांति से हूँ . मेरा टकराव इंसानों के साथ है .

 

तुम दिव्य हो .तुम मेरा हिस्सा हो .मैं तुम्हारा हिस्सा हूँ .

 

जैसे शरारती बच्चों के लिए मक्खियाँ होती हैं,वैसे ही देवताओं के लिए हम होते हैं; वो अपने मनोरंजन के लिए हमें मारते हैं.

 

मत करना अभिमान खुद पर ऐ इन्सान ! तेरे और मेरे जैसे कितनो को ईश्वर ने माटी से बनाकर माटी में मिला दिया !

 

ग़ालिब ने यह कह कर तोड़ दी माला, गिनकर क्यों नाम लूँ उसका जो बेहिसाब देता है।

 

मुझे कौन याद करेगा इस भरी दुनिया में, हे ईश्वर ! यहाँ तो बिना मतलब के तो लोग तुझे भी याद नहीं करते…!

 

आकाश के देवताओं की पूजा करने से पूर्व अपने माता-पिता की पूजा करो !

 

ईश्वर का संदेश : सोने से पहले तुम सब को माफ़ कर दिया करो, तुम्हारे जागने से पहले मैं तुम्हे माफ़ कर दूंगा !

 

सभी धर्मों के ग्रन्थ इंसान को परमेश्वर के समीप लाते हैं ।

 

भगवान न दिखाई देने वाले माता-पिता है, और माता-पिता दिखाई देने वाले भगवान है !

 

सच को दोहराना ही प्रार्थना है।

 

मैं उन्हें ज्ञान देता हूँ जो सदा मुझसे जुड़े रहते हैं और जो मुझसे प्रेम करते हैं.

 

मैं उन्हें ज्ञान देता हूँ जो सदा मुझसे जुड़े रहते हैं और जो मुझसे प्रेम करते हैं.

 

प्रबुद्ध व्यक्ति सिवाय ईश्वर के किसी और पर निर्भर नहीं करता.

 

मेरे लिए दरवाजे खोलो, जैसे मैंने खुद को तुम्हारे लिए खोला है.

 

इसलिए मैं तुमसे कहता हूँ, मांगो और तुम्हे ये दिया जायेगा; खोजो,

 और तुम्हे मिलेगा ; खटखटाओ, और तुम्हारे लिए दरवाजे खोल दिए जायेंगे- यीशु मसीह

 

कर्म भूमि पर फल के लिए श्रम तो सभी को करना ही पड़ता है,

 भगवान सिर्फ लकीरें देता है, रंग तो हमें ही भरना पड़ता है…

 

यदि तुम एकदम सही होना चाहते हो, जाओ, अपनी सारी संपत्ति बेच दो 

और गरीबों को दे दो, और तुम्हे स्वर्ग में खजाना मिलेगा

 

मुझे अपने जीवन, अपनी दुनिया में आने दो. मुझ पर आश्रित रहो, ताकि तुम सच में जीवित हो सको.

 

और यह समझो कि मैं हमेशा तुम्हारे साथ हूँ; हाँ, काल के अंत तक.

 

में अँधेरे में ईश्वर के साथ चलना पसंद करूंगी बजाय अकेले उजाले में चलने के

 

ईश्वर एक वृत है जिसका केंद्र हर जगह है और परिधि कहीं नहीं है

 

अगर आप ईश्वर को खोजना चाहतें है तो, 

अपने विचारों के बीच में छूटे हुए स्थान में देखिये

 

में ईश्वर में विश्वास नहीं करता, 

इसके लिए तो इच्छा से कोशिश करनी होती है, में तो ईश्वर को चारो और देखता हूँ.

 

ईश्वर को आसमान में मत खोजो, उसे अपने अन्दर देखो।

 

हर घटना, चाहे वह छोटी हो या बड़ी एक शिक्षाप्रद कहानी की तरह है,

जिसके द्वारा ईश्वर हमसे बात करता है, 

उस सन्देश को समझना, जीवन की कला है।

 

में जानती हूँ की परमात्मा मुझे एसी कोई चीज़ नहीं देगा जिसे में संभाल ना सकूँ, 

में तो बस यह इच्छा करती हूँ की वह मुझ पर ज्यादा भरोसा ना करे।

 

ईश्वर की कोई परिभाषा नहीं हो सकती। वह तो पूरी डिक्शनरी से भी बहुत बड़ा है।

 

परमात्मा की इच्छा मार्गदर्शक नहीं है वो तो एक भाव, एक प्रवृति है

 

लोग खुदा को हर दिन देखतें हैं, वे सिर्फ उसे पहचानतें नहीं।

 

में हमेशा सोचता हूँ की ईश्वर को जानने का सबसे अच्छा तरीका है बहुत सी चीजों से प्यार करना।

 

आप,अपनी चिंताओं का आकार देखकर,

अपने ईश्वर के आकार को जान सकते हो,

 जितनी लम्बी आपकी लिस्ट होगी,

 उतना छोटा आपका ईश्वर होगा

 

तुम जो भी हो वह ईश्वर का तुम्हे उपहार है, तुम क्या बनते हो यह तुम्हारा, ईश्वर को उपहार है।

 

ईश्वर हम मे से हर एक को ऐसे प्यार करता है जैसे केवल हमारा ही अस्तित्व हो

 

ईश्वर को समझना आसन हैं, जब तक की आप उसकी व्याख्या करने की कोशिश न करें

 

कहा जाता है की ईश्वर हर जगह पर मोजूद है, फिर भी हम उसे एकांत में रहने वाला मानते हैं

 

विश्वास के साथ बुनना शुरू करो और ईश्वर धागा ढूंढ देगा

 

प्रार्थना तब होती है जब आप परमात्मा से बात करतें हैं, ध्यान तब होता है जब आप इश्वर को सुनते हैं।

 

हर शाम को में अपनी चिंताएं ईश्वर को सोंप देती हूँ, वेसे भी वो तो रात भर जगता ही रहता है।

 

यह निश्चित है कि मैं भगवान हूँ, सभी मेरे आगे झुकेंगे, और मानेगे की मैं भगवान हूँ.

 

जिस प्रकार पिता ने मुझसे प्रेम किया है, उसी तरह मैंने तुमसे प्रेम किया है.

 

अपने दिल को आफत में मत डालो. ईश्वर में भरोसा रखो; मुझमे भी भरोसा रखो.

 

क्योंकि भगवान दुनिया से इतना प्रेम करते थे कि 

उन्होंने अपना इकलौता पुत्र दे दिया, 

वो जो उसमे यकीन करता है 

मृत नहीं होगा बल्कि उसका जीवन चिरकालिक हो जायेगा - यीशु मसीह

 

जिस प्रकार पिता ने मुझसे प्रेम किया है, उसी तरह मैंने तुमसे प्रेम किया है - यीशु मसीह

 

ज़िन्दगी ईश्वर का उपन्यास है। ईश्वर को उसे लिखने दीजिये

 

अल्लाह हमारी दुआओं को तब भी समझता है, जब उन्हें कहने के लिए हमारे पास लफ्ज़ नहीं होते हैं।

 

अल्लाह हमारी दुआओं को तब भी समझता है, जब उन्हें कहने के लिए हमारे पास लफ्ज़ नहीं होते हैं।

 

रब का वादा तो सितारों की तरह हैं, जितनी काली रात होगी, वे उतना ही ज्यादा तेज़ चमकेगें।

 

हर घुटने मेरे सामने झुकेंगे ,और हर जुबान भगवान की महिमा करेगी.- यीशु मसीह

 

हर कोई जो स्वयं की प्रशंशा करता है उसे विनम्र किया जाएगा, 

और हर कोई जो स्वयं को विनम्र करता है उसकी प्रशंसा होगी.

 

ईश्वर हर व्यक्ति में एक निजी दरवाज़े से प्रवेश करता है।

 

आप पाएंगे, भगवान् भी मेहनती लोगों की ही मदद करता है| यह नियम बिलकुल स्पष्ट है

 

मैं मार्ग हूँ, सत्य हूँ, और जीवन हूँ. 

मुझसे हुए बिना कोई पिता तक नहीं पहुँचता- यीशु मसीह

 

यदि जो तुम्हारे भीतर है उसे सामने लाओ, तो वो तुम्हे बचाएगा. 

यदि जो तुम्हारे भीतर है उसे सामने नहीं लाते हो, तो वो तुम्हे नष्ट कर देगा.

 

मैं सभी प्राणियों के ह्रदय में विद्यमान हूँ .

 

ऐसा कुछ भी नहीं , चेतन या अचेतन , जो मेरे बिना अस्तित्व में रह सकता हो .

 

वह जो इस ज्ञान में विश्वास नहीं रखते , 

मुझे प्राप्त किये बिना जन्म और मृत्यु के चक्र का अनुगमन करते हैं .

 

हमारी प्रार्थना बस सामान्य रूप से आशीर्वाद के लिए होनी चाहिए, क्योंकि भगवान जानते हैं कि हमारे लिए क्या अच्छा है.

 

मनुष्य – एक ऐसा जीव जो साप्ताहिक कार्य के अंत में बनाया गया जब भगवान थके थे.

 

हम ईश्वर में यकीन रखते हैं , बाकी सभी तथ्य जमा करते हैं।

 

कहते हैं कि धर्म के बिना इंसान लगाम के बिना घोड़े की तरह है.

 

मैं अल्लाह से बात करता हूँ, मैं उनकी इबादत करता हूँ.

 

“आज” भगवान का दिया हुआ एक उपहार है- 

इसीलिए इसे “प्रेजेंट” कहते हैं.

 

ईश्वर हम सब के दिलों में है, 

और जो उसे खोजतें हैं, उसे पा लेंगे, 

जब उन्हें ईश्वर की सबसे ज्यादा ज़रुरत होगी।

 


Post a comment

0 Comments