Main menu

Pages

Best Hindi Good Morning Shayari, Good Morning Images

Best Hindi Good Morning Shayari, Good Morning Images


नमस्कार दोस्तों क्या आप भी गूगल पर सर्च कर रहे हैं Good Morning ShayariIn Hindi - Good Morning Images


हाँ तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं आज की पोस्ट में हम बेस्ट Good Morning Imagesस्टेटस In Hindi आपके लिए लेकर आये हैं जैसे के Good Morning Shayari स्टेटस और शायरी In Hindi, Good Morning Shayari शायरी in Hindi, Best Lines For Good Morning Images स्टेटस etc.


जीनको के आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शेयर कर सकते हैं व्हाट्सप्प और फेसबुक के जरिये उम्मीद है के आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आएगी ।



 You may also like



good morning shayari photo download

good morning shayari photo download



🌹🌿🌹🌿🌹🌿🌹🌿🌹
सुबह का हर पल ज़िंदगी दे आपको,
दिन का हर लम्हा खुशी दे आपको,
जहा गम की हवा छू कर भी न गुज़रे,
खुदा वो जन्नत से ज़मीन दे आपको.
GOOD MONRNING
🌹🌿🌹🌿🌹🌿🌹🌿🌹

फूलों की वादियों में हो बसेरा तेरा,
सितारों के आँगन में हो घर तेरा,
दुआ है एक दोस्त की एक दोस्त को,
कि तुझसे भी खूबसूरत हो सवेरा तेरा.
Good Morning


आप  न  होते  तो  हम  खो  गए  होते ,
अपनी  ज़िन्दगी  से  रुस्वा  हो  गए  होते ,
यह  तो  आप  को  गुड  मॉर्निंग  के  कहने  के  लिए  उठे  हैं ,
वरना  हम  तो  अभी  भी  सो  रहे  होते .

आपकी  नयी  सुबह  इतनी  सुहानी  हो  जाये ,
दुखों  की  साडी  बातें  आपकी  पुरानी  हो  जाये ,
दे  जाये  इतनी  खुशिया  ये  दिन ,
की  ख़ुशी  भी  आपकी  मुस्कराहट  की  दीवानी  हो  जाये ..

इन  ताजी हवा  में  फूलों  की  महक  हो ,
पहली  किरण  में  चिड़ियों  की  चहक  हो ,
जब  भी  खोलो  आप  अपनी  पलकें ,
उन  पलकों  में  बस  खुशियों  की  ही  झलक  हो …

इस  प्यारी  सी  सुबह  में ,
प्यारे  से  मौसम  में ,
प्यारी  सी  कोयल  की  आवाज़ ,
प्यारी  सी  हवाओं  में ,
सबसे  प्यारे  इंसान ,
और  सबसे  प्यारे  दोस्त  को  मेरी  तरफ  से  गुड  मॉर्निंग  का  पैग़ाम :)

उगता  हुआ  सूरज  तुम्हे  सलाम  करता  है ,
हर  दिन  तेरा  अच्छा  बीते  अज़ान  करता  है ,
हर  कदम  पे  तू  आगे  बढे  ए मेरे  दोस्त ,
मेरा  ये  मॉर्निंग  एस .ऍम. एस.  तुझे  पैगाम  देता  है .

नमस्कार ! ये  हमारी  “सूर्य  उठे ” संस  सेवा  है ,
इसमें  हम  सोये  हुए  “आलसी  लोगों ” को  जागते  है ,और  बाद  में  गुड  मॉर्निंग  कह  के  हम  खुद  सो  जाते  है ..
गुड  मॉर्निंग .!

नमस्कार !
जाग   जाओ  बालक !!
सूर्य  का  उदय  हो  चूका  है ,
नित्य  क्रम  से  निविर्त होक ..
पवित्र  स्नान  पूर्ण  करलो  और ,
मित्रो  को  सन्देश  भेजे ,
फिर  बाद  में  थोड़ा  अल्पाहार  कर  ले ..
शुभ  प्रभात

ना  किसी  के  "अभाव " में  जियो ,
ना  किसी  के  "प्रभाव " में  जियो ,
ज़िंदगी  आपकी  है , 
बस  अपने  मस्त  "स्वभाव " में  जियो ..!

पानी  की  बूंदे  फूलों  को  भीगा  रही  है 
ठंडी  लहरें  एक  ताज़गी  जग  रही  है 
हो  जाइये  आप  भी  इनमे  शामिल 
एक  प्यारी  सी  सुबह  आपको  जग  रही  है …


मीठी  सी  नींद  के  मीठे  ख्वाब  में  हो  गया  सवेरा ,
अब  तो  जागिये  जनाब  चाँद  भी  चुप  गया ,
फिर  रात  के  इंतज़ार  में  १  नया  दिन  शुरू  करो ,
अपनी  मंज़िल  की  तलसश  में …

रात  ने  चद्दर  समेत  ली  है ,
सूरज  ने  भी  किरणे  बिखेर  दी  है ,
चलो  उठ  जाओ  और  थैंक्स  करो ,
अपने  भगवान  को ,
जिसने  हमें  ये  प्यारी  सी  सुबह  दी  है .

लबों  पे  मुस्कान , आँखों  में  ख़ुशी ,
गम  का  कहीं  काम  ना हो ,
हर  दिन  लाये  आपके  लिए  इतनी  खुशियाँ ,
जिसके  ढलने  की  कोई  शाम  ना  हो ….

सुप्रभात  का  उजाला  सदा  आपके  साथ  हो 
हर  दिन  का  लाख  लाख  पल  आप  के  लिए  कुछ  खास  हो 
दुआ  हमेशा  निकलती  है  दिल  से  आप  के  लिए 
ढेर  खुशियों  का  खज़ाना  आपके  पास  हो …

सुप्रभात  का  उजाला  सदा  आपके  साथ  हो 
हर  दिन  का  लाख  लाख  पल  आप  के  लिए  कुछ  खास  हो 
दुआ  हमेशा  निकलती  है  दिल  से  आप  के  लिए 
ढेर  खुशियों  का  खज़ाना  आपके  पास  हो …


सुबह  का  हर  पल  प्यारी  ज़िन्दगी  दे  आपको ,
दिन  का  हर  पल  खुशियाँ  दे  आपको ,
जहाँ  गम  की  हवा  छु  भी  न  सके  आपको ,
खुदा  वो  जन्नत   सी  ज़मी  दे  आपको .गुड  मॉर्निंग !


good morning shayari image download

good morning shayari image download




सूरज  की  पहली  किरण  ख़ुशी  दे  आपको ,
दूसरी  किरण  हसी  दे  आपको ,
तीसरी  तंदरुस्ती  और  कामयाबी ,
बस  आब  ज्यादा  नहीं  वरना  गर्मी  लगेगी !!!
गुड  मॉर्निंग

किसी को भी ख़ुश करने का मौक़ा मिले, तो छोड़ना मत,,
वो फ़रिश्ते ही होते हैं, जो किसी के चेहरे पर मुस्कुराहट दे पाते है।”

ताजी हवा मे फूलों की महक हो,
पहली किरण मे चिडियों की चहक हो,
जब भी खोलो तुम अपनी पलके,
उन पलकों मे सिर्फ खुशियों की झलक हो…

कलियों के खिलने के साथ,
एक प्यारे एहसास के साथ,
एक नए विश्वास के साथ,
आपका दिन शुरू हो एक मिठी मुस्कान के साथ…
Good Morning !

सितारों के बिस्तर से सूरज को जगाया है,
चाँद को रात का मेहमान बनाया है,
कोई इंतजार कर रहा है मेरे SMS का,
ठंडी हवाओं ने अभी अभी मुझे बताया है…
Good Morning !

नयी नयी सुबह नया नया सवेरा,
सूरज के किरणों के बिच हवाओं का बसेरा,
खुले आसमान मे सूरज का चेहरा,
मुबारक हो आपको यह हँसी सवेरा…

शबनम की बुँदे फूलों को भीगा रही है,
ठंडी लहरे ताजगी जगा रही है,
हो जाए आप भी उसमे शामिल,
एक प्यारी सी सुबह आपको बुला रही है…

सपनों के जहाँ से अब लौट आओ,
हुई है सुबह अब जाग जाओ,
चाँद तारों को अब कहकर अलविदा,
इस नए दिन की खुशियों मे खो जाओ…

नई सुबह का नया नया नजारा,
ठंडी हवा लेकर आयी पैगाम हमारा,
जागो, उठो, तैयार हो जाओ यारो,
खुशियों से भरा रहे आज का दिन तुम्हारा…

माना की आपसे रोज मुलाकात नही होती,
माना की रोज आमने सामने बात नही होती,
हर सुबह आपको दिल से याद करते है,
उसके बिना हमारे दिन की शुरुवात नही होती…

X’cuse Me,
अगर आप अभी सोये नही हो,
और SMS पढ रहे हो,
तो गुड नाईट…
और अगर आप सो गए हो,
और SMS सुबह पढोगे,
तो फिर गुड मॉर्निंग…

सुरज तु उनको मेरा पैगाम देना,
खुशी का दिन और हँसी की शाम देना,
जब वो पढे प्यार से मेरे इस पैगाम को,
तो उनके चेहरे पे प्यारी सी मुस्कान देना…
Shubh Prabhat !

good morning love shayari image download

good morning love shayari image download



आसमान मे सुरज निकल आया है,
फिजाओं मे एक नया रंग छाया है,
जरा मुस्कुरा दो, ना यु खामोश रहो,
आपकी मुस्कान को देखने ही तो,
ये हसीन सवेरा आया है…
Good Morning !

आज प्यारी सी सुबह बोली: उठ देख क्या नजारा है,
मैने कहा: रुक पहले उसे SMS भेज दू,
जो इस सुबह से भी प्यारा है…
Good Morning !


रात का अंधेरा एक ख्वाब लाता है,
दिन का उजाला एक इंतजार लाता है,
आप साथ हो ना हो,
हवा का हर झोंका,
आपका एहसास लाता है…
Good Morning !

कभी रूठकर, कभी मनाकर,
कभी हँसकर, कभी हँसाकर,
कभी रोकर, कभी रुलाकर,
हमारा SMS कहेगा आपसे,
हर पल जियो मुस्कुराकर…
गुड मॉर्निंग !

सुबह की प्यारी रौनक तो देखो,
इन आखों मे बसी आपकी तस्वीर तो देखो,
हमने आपको प्यारा सा गुड मॉर्निंग किया है,
एक बार उठ कर मोबाइल तो देखो…
Good Morning!

प्यारी सी मीठी सी नींद के बाद,
रात के कुछ लम्हो के बाद,
सुबह के नए सुनहरे सपनों के साथ,
दुनिया मे कुछ अपनों के साथ,
आपको प्यारा सा शुभ प्रभात…

आज कुछ घबराये से लगते हो,
ठंड मे कपकपाये से लगते हो,
निखार कर आई है सुरत आपकी,
बहुत दिनों बाद नहाये से लगते हो…

हम ना होते तो आप खो गए होते,
अपनी जिंदगी से रुसवा हो गए होते,
यह तो आपको GOOD MORNING कहने,
के लिए उठे है,
वरना हम तो अब तक सो रहे होते…

चेहरे पे हँसी आँखों मे खुशी,
गम का कही काम ना हो,
हर सुबह लाए आपके जिंदगी मे बहुत खुशियाँ,
जिसकी ढलने की कोई शाम ना हो…
GOOD MORNING !

सुबह के फूल खिल गए,
पंछी अपने सफर पे उड़ गए,
सूरज आते ही तारे भी चुप गए,
क्या आप मीठी नींद से उठ गए?
GOOD MORNING !

 
good morning shayri in hindi image download

good morning shayri in hindi image download



आपकी आँखों को जगा दिया हमने,
गुड मॉर्निंग का फ़र्ज़ अदा किया हमने,
मत सोचना की सोये हुए हैं हम,
आज आपसे पहले आपको याद किया हमने.
Good Morning !

बिन सावन बरसात नहीं होती,
सूरज डूबे बिना रात नहीं होती,
क्या करे अब कुछ ऐसे हालत है,
आपकी याद आये बिना दिन
कि शुरुवात नहीं होती…
Good Morning!


एक महान फिलोसोफर ने क्या खूब कहा है,
कि ..
“ज़िन्दगी तुही बता कैसे तुझे प्यार करूँ?
तेरी हर एक ‘सुबह’ मुझे अपनों से दुरी का एहसास देती है”
Good Morning!

“नहीं” और “हाँ” यह दो छोटे शब्द है, लेकीन जिनके लिए बोहोत सोचना पड़ता है…
हम जिंदगीमें बोहोतसी चीजे खो देते है,
“नहीं” जल्दबाजी में बोलने पर,
और,
“हाँ” देर से बोलने पर…
Good Morning


जन्नत की महलों में हो महल आपका,
ख्वाबो की वादी में हो शहर आपका,
सितारो के आंगन में हो घर आपका,
दुआ है सबसे खूबसूरत हो हर दिन आपका…
Good Day!

दिन है सुहाना आज पहली तारीख है..
खुश है झमाना आज पहली तारीख है..
मीठा है खाना आज पहली तारीख है..
करो ना बहाना आज पहली तारीख है..

मधुरम् मधुरम्" प्रातःकाले
"शीतलम् शीतलम्" पवनः
"ऊष्णम् ऊष्णम्" ऊष्णोदकम्
सर्वे जनाः कथयन्ति
शुभ प्रभातम्!


सवेरे सवेरे हो खुशियों का मेला;
न लोगों की परवाह, न दुनिया का झमेला;
पंछियो का संगीत हो और मौसम अलबेला;
मुबारक हो आपको ये ख़ूबसूरत सवेरा।


नैनो के काजल से; महकों की बहार से;
इस गुल-ए-गुलज़ार से;
दिल के हर तार से;
बड़े ही प्यार से;
कहते हैं आपको।
गुड मोर्निंग।



प्यारी सी
ठंडी सी
अच्छी सी
खूबसूरत सी
बड़ी सी
भोली सी
मीठी सी
.
..
गुड मोर्निंग।

सूरज जाग गया;
जानवर जाग गए;
परिंदे जाग गए;
हम भी जाग गए;
अब आप भी जाग जाओ;
आपको तो बेड से उठने के लिए चाय नहीं मैसेज चाहिए।
सो आ गया। अब तो उठ जा, यार।
गुड मोर्निंग।


सूरज की पहली किरण ख़ुशी दे आपको;
दूसरी किरण प्यारी सी हंसी दे आपको;
तीसरी किरण अच्छा स्वास्थ और तरक्की दे आपको;
बस अब और गर्मी नहीं, लगेगी आपको।
सुप्रभात।



नमस्कार।
सुबह "आज तक" में आपका स्वागत है।
आप सब को शुभ प्रभात।
आज के मुख्य समाचार, "पूरे भारत-वर्ष में आज भी मैसेजों की बारिश जारी रहेगी और यादों के बादल छाए रहेंगे"।


फूल खिलने का वक़्त हो गया;
सूरज निकलने का वक़्त हो गया;
मीठी नींद से जागो मेरे प्यारो;
सपने हक़ीकत में लाने का वक़्त हो गया।
सुप्रभात।

good morning shayari image download hd
good morning shayari image download hd



नई सुबह;
नई किरणें;
नई आशा;
नई उम्मीदें;
नये रास्ते;
इन सब के साथ आपको दिल से - सुप्रभात।


सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है;
आँख खुलते ही आपकी याद आती है;
खुशियों के फूल हो आपके आँचल में;
ये मेरे होंठो पर पहली फ़रियाद होती है।
सुप्रभात।


खुदा करे रात चाँद बनकर आये;
दिन का उजाला शान बनकर आये;
कभी दूर न हो आपके चेहरे से हंसी;
नया दिन ऐसा मेहमान बनकर आये।
सुप्रभात।

नए दिन की नई सुबह का नया-नया अंदाज़;
सारे दिन की झोली में छुपे हुए हैं कुछ राज़;
तुझको मुझको हर किसी को मिलना है कुछ आज;
तो आओ यारों ख़ुशी ख़ुशी कर लें दिन का आग़ाज़।
सुप्रभात।


रात आती है सितारे लेकर;
नींद आती है सपने लेकर;
काश आपकी हर सुबह आये;
बहुत सारी खुशियाँ लेकर।
सुप्रभात।

कोई वफ़ा नहीं फिर भी इंतज़ार था;
दूर होने के बाद भी आपकी दोस्ती से प्यार था;
आपके चेहरे की मुस्कुराहट बता रही है;
आपको मेरे ही मैसेज का इंतज़ार था।
सुप्रभात।


चाय के कप से उठे धुएं में;
तेरी शक्ल नज़र आती है;
तेरे ख्यालों में खोकर अक्सर;
मेरी चाय ठंडी हो जाती है।
सुप्रभात।


प्यारी सी मधुर निंदिया के बाद;
रात के कुछ सपनों के साथ;
सुबह की कुछ उम्मीदों के साथ;
आपको प्यार भरा सुप्रभात।


ख़्वाबों के जहाँ से अब लौट भी आओ;
हुई है सुबह अब जाग भी जाओ;
चाँद-तारों को अब कह भी दो 'बाय';
और प्यारी सी सुबह को कहो, 'हाय'।
गुड मोर्निंग


हर सुबह आपको सलाम दे;
हर फूल आपको मुस्कान दे।
हम दुआ करते हैं कि;
खुदा आपको नये सवेरा के साथ;
कामयाबी का नया आसमान दे।

बीत गई तारों वाली सुनहरी रात;
याद आई फिर वही प्यारी सी बात;
खुशियों से हर पल हो आपकी मुलाकात;
इसलिए मुस्कुरा के करना दिन की शुरुआत।
सुप्रभात।

ताज़ी हवा में फूलों की महक हो;
पहली किरण में चिड़ियों की चहक हो;
जब भी खोलो तुम अपनी पलकें;
उनमें बस खुशियों की झलक हो।
सुप्रभात।

ताज़ीफिर नई आशा के साथ सुबह;
सुप्रभात कहता हूँ आपको फिर से एक बार;
प्यार से साथ रहे आपका पूरा परिवार;
हर तरफ कामयाबी हो, खुलें जिंदगी में हर द्वार।

आ गई फिर नई आशा के साथ सुबह;
सुप्रभात कहता हूँ आपको फिर से एक बार;
प्यार से साथ रहे आपका पूरा परिवार;
हर तरफ कामयाबी हो, खुलें जिंदगी में हर द्वार।

रात के बाद सुबह आई है;
उठकर देखो सुबह का नज़ारा;
क्या हुआ अगर कल गम में बीता;
आज की सुबह में देखो खुशियाँ का नज़ारा।
सुप्रभात।

नई उमीदों के साथ नई सुबह आई है;
देखो सूरज को भी साथ लाई है;
हमारे प्यार का असर तो देखो;
किरणें भी आपको सुप्रभात कहने आईं हैं।

सुबह की किरण आपकी याद लाई है;
फूलों की खुशबु आपका एहसास लाई है;
काश इन सबके साथ आप आ जाती;
मेरी सुबह और भी हसीन हो जाती।
सुप्रभात।

हर दिन की शुरुआत हो;
मेरा प्यार मेरे साथ हो;
आपके हाथ में मेरा हाथ हो;
और मेरी हर सुबह आपके साथ हो।
सुप्रभात।

जो आसानी से मिले वो है धोखा;
जो मुश्किल से मिले वो है इज्ज़त;
जो दिल से मिले वो है प्यार।
और जो नसीब से मिले वो हैं आप।
सुप्रभात।

सुहानी सुबह में सूरज का साथ हो;
गुन गुनाते पंछियों की आवाज हो;
हाथ में चाय का प्याला हो;
और मन में एक दूसर की याद हो।
ऐसी ही हमारी और तुम्हारी सुप्रभात हो।

फूलों के साये में बसेरा हो आपका;
सितारों के आँगन में सवेरा हो आपका;
दुआ है दिल से हमारे प्यार के लिए;
मेरी हर सुबह हो आपको हंसाने के लिए।
सुप्रभात।

प्यारी सी मीठी सी निंदिया के बाद;
रात के हसीन सपनों के बाद;
सुबह के कुछ नए सपनों के साथ;
आप हँसते रहें अपनों के साथ।
सुप्रभात।

न मंदिर न भगवान;
न पूजा न स्नान;
सुबह उठते ही पहला काम;
एक SMS तुम्हारे नाम।
सुप्रभात।

हर नई सुबह का नया नया नज़ारा;
ठंडी हवा लेकर आई पैगाम हमारा;
जागो, उठो, तैयार हो जाओ मामू;
खुशियों से भरा रहे आज का दिन तुम्हारा।
सुप्रभात।

सूरज की पहली किरण ख़ुशी दे आपको;
दूसरी किरण प्यारी सी हंसी दे आपको;
तीसरी किरण अच्छा स्वास्थ और तरक्की दे आपको;
अब और बस, नहीं तो गर्मी लगेगी आपको।
सुप्रभात।

एक नये दिन की शुरुआत हो;
मेरी दिलरुबा मेरे साथ हो;
उसके हाथों में मेरा हाथ हो;
और बस प्यार ही प्यार हो।
सुप्रभात।


कोई दुनिया को नहीं बदल सकता, सिर्फ इतना हो सकता है कि इंसान अपने आप को बदले तो दुनिया अपने आप बदल जायेगी।
सुप्रभात।


 
खुदा करे हर रात चाँद बनकर आये;
दिन का उजाला शान बनकर आये;
कभी दूर न हो आपके चेहरे से हंसी;
हर दिन ऐसा मेहमान बनकर आये।
सुप्रभात।



हमारी दिल से है येही दुआ;
कि आपकी सुहानी हो हर सुबह।
सुप्रभात।


नया दिन;
नई सुबह;
नया आसमान;
नई उम्मीदे;
नई आशाएं;
नए सपने;
नये काम;
नई कामयाबी;
नई सफलता
के साथ आपको हमारी ओर से सुप्रभात।



अपने गम की नुमाइश न कर;
अपने नसीब की अजमाइश न कर;
जो तेरा है तेरे पास खुद आएगा;
हर रोज़ उसे पाने की ख्वाहिश न कर।
सुप्रभात।

सुबह-सुबह 3 बातों का ध्यान रखें:
1. भगवान को याद करो ताकि तुम जी सको;
2. मेरे को मैसेज करो ताकि मैं जी सकूँ;
3. नहा लो, ताकि लोग जी सकें। सुप्रभात।

बड़ी अजीब सी बंदिश थी दोस्तों के प्यार की;
न उन्होंने कभी कैद में रखा;
और न हम कभी फरार हो पाए।
सुप्रभात।

जीवन एक पत्नी की तरह है - कभी हँसाती है और कभी रुलाती है।
बहुत ही सुहावनी सुबह, प्रिये दोस्तो।

खूबसूरत फोटो हमेशा अँधेरे में बनाई जाती है। इसलिए आपको जब भी अपने जीवन में अँधेरा दिखे तो इसका मतलब है कि भगवान आपके लिए सुंदर भविष्य बना रहा है।
सुप्रभात।

उदासियों की वजह तो बहुत है जिंदगी में;
पर बेवजह खुश रहने का मज़ा ही कुछ और है।
हमेशा खुश रहो।
सुप्रभात।

हर सुबह हमारी दुआ के साथ हो;
ऐसे ही आपके दिन की शुरुआत हो।
सुप्रभात।

हर रात के बाद एक नया सवेरा हो;
सवेरा जीवन में भरने आया उजाला हो;
दिन गुजरा जाए आपका हँसते-हँसते;
जागते सूरज के साथ हमारी यही दुआ हो।
सुप्रभात!

सूरज की पहली किरण;
दिन का पहला प्यार;
पंछियों की किलकारियां;
हवाओं की ठंडी लहरें;
इन सबके साथ आपको
गुड मोर्निंग।

हुई सुबह और उड़ गया अँधेरा;
किरणों ने किया नवीनतम सवेरा;
आसमान में हुआ सूरज का बसेरा;
काश आज मिलन हो तेरा और मेरा।
सुप्रभात।

सुबह सुबह ज़िन्दगी की शुरुआत होती है;
किसी अपने से बात हो तो ख़ास होती है;
हंसकर प्यार से अपनों को गुड मोर्निंग बोलो तो;
खुशियाँ अपने आप साथ होती हैं।
सुप्रभात!

सुबह की धूप कुछ यादों के साथ आती है;
खिलते फूलों से मीठी खुशबु आती है;
हर सुबह आपको नये रास्ते दिखाती है;
सूरज की किरणें आपके जीवन को रंगीन बनाती हैं।
सुप्रभात!

सुबह की पहली किरण आपके पास भेजता हूँ;
मैं अपने दिल का ये अरमान आपके पास भेजता हूँ;
आप की हर सुबह हो ख़ास;
उस ख़ास में हो हम आपके पास।
सुप्रभात!

जब भी आये नई सुबह;
वो जब पढ़ें मेरा SMS;
तभी उन्हें मिले मेरा SMS.
सुप्रभात।

चांदनी रात अलविदा कह रही है;
एक ठंडी सी हवा दस्तक दे रही है;
उठकर देखो आँखों से नजारों को; एक प्यारी सी सुबह आपको गुड मोर्निंग कह रही है।
सुप्रभात।

जिंदगी तस्वीर भी है और तकदीर भी;
फर्क तो रंगों का है;
मनचाहे रंगों से बने तो तस्वीर;
और
अनजाने रंगों से बने तो तक़दीर।
सुप्रभात!


सुबह की हल्की सी ठण्ड में;
फूलों की रंगोली सजी थी;
सुबह की पहली किरण के साथ; आँखों के खुलते ही आपको याद किया;
तो दिन की शुरुआत अच्छी हुई थी।
सुप्रभात!

सवेरे - सवेरे हो खुशियों का मेला;
न लोगों की प्रवाह न दुनिया का झमेला;
पंछियों का संगीत हो और मौसम अलबेला;
मुबारक हो मामू ये खूबसूरत सवेरा।
सुप्रभात।


 उम्मीदों भरी सुबह आई है;
सूरज को साथ लाई है;
हमारी दोस्ती का ये असर भी तो देखो;
हवाएं भी आपको गुड मोर्निंग कहने आईं हैं!
सुप्रभात!


जो लोग आप से जलते हैं, उन लोगों से नफ़रत कभी मत करना;
क्योंकि
यही तो वो लोग हैं, जो यह समझते हैं कि आप उनसे बेहतर हैं।
सुप्रभात।


बड़े अरमान से बनवाया है;
इसे रोशनी से सजाया है;
बहुत दूर से मंगवाया है;
ज़रा खिड़की खोल के देखो आपको गुड मोर्निंग कहने सूरज आया है।
सुप्रभात!


नमस्कार!
ये हमारी सूर्य उदय का SMS सेवा केंद्र है।
इसमें हम सोए हुए आलसी लोगों को जगाते हैं।
और बाद में 'सुप्रभात' कह के खुद सो जाते हैं।

सुबह सुबह सूरज का साथ हो;
परिंदों की चहचहाने की आवाज हो;
हाथ में चाय का कप और यादों में आप हों;
उस खुश नुमा सुबह की क्या बात हो।
सुप्रभात।


फिज़ा में महकती शाम हो तुम;
प्यार में छलकता जाम हो तुम;
सीने में छुपाए फिरते हैं हम याद तुम्हारी;
मेरी जिंदगी का दूसरा नाम हो तुम।
सुप्रभात!


आज सुबह सूरज बिलकुल आप जैसा निकला;
बिलकुल वही ख़ूबसूरती लिए;
वही नूर;
वही गुरुर;
वही सुरूर;
और वही आपकी तरह हमसे कोसो (बहुत) दूर। सुप्रभात!


प्यार हुआ और दिल टूट गया;
जिंदगी का मनोबल छूट गया;
यह सब सच नहीं है;
बस आँख खुली और सपना टूट गया।
सुप्रभात।


मौसम की बहार अच्छी हो;
फूलों की कलियाँ कच्ची हों;
हमारे ये रिश्ते सच्चे हों;
रब तेरे से बस एक दुआ है कि;
मेरे यार कि हर सुबह अच्छी हो।
सुप्रभात।


दांतों को बराबर घिस डालने का;
मोती के माफ़िक चमका डालने का;
हाथ में एक कप चाय लेने का;
और सभी दोस्तों को बोल डालने का।
"सुबह हो गई मामू!"
बोले तो - गुड वाली मोर्निंग।


भुला दो बीता हुआ कल;
दिल में बसाओ आने वाला कल;
हँसो और हँसाओ चाहे जो भी हो पल;
खुशियाँ लेकर आयेगा ये आने वाला कल।
सुप्रभात।


पलक झुकाकर सलाम करते हैं;
दिल की दुआ आपके नाम करते हैं;
कुबूल हो अगर तो मुस्कुरा देना;
हम यह प्यार सा दिन आपके नाम करते हैं।
सुप्रभात!


जुदाई आपकी रुलाती रहेगी;
याद आपकी आती रहेगी;
पल-पल जान जाती रहेगी;
जब तक जिस्म में है जान;
मेरी हर सांस यारी निभाती रहेगी।
गुड मॉर्निंग!


सुबह सुबह जब कोई पैगाम आता है;
दिल कहता है कोई तुझे भी याद करता है;
पढ़ के मैसेज चेहरे पर गुलाब की तरह खिल जाता है;
यही होता है जब कोई अपना आपको दिल से याद करता है।
सुप्रभात!


जिन्हें ख्वाब देखना अच्छा लगता है;
उन्हें रात छोटी लगती है;
और जिन्हें ख्वाब पूरे करना अच्छा लगता है;
उन्हें दिन छोटा लगता है।
सुप्रभात!


ये हमारी सूर्योदय SMS सेवा है;
इसमें हम सोए हुए आलसी लोगों को जगाते हैं;
और बाद में गुड मॉर्निंग कह कर खुद सो जाते हैं;
सुप्रभात!


कलियों के खिलने के साथ;
एक प्यारे एहसास के साथ;
एक नये विश्वास के साथ;
आपका दिन शुरू हो एक मीठी मुस्कान के साथ।
सुप्रभात!


हँसना और हँसाना कोशिश है मेरी;
हर कोई खुश रहे ये चाहत है मेरी;
भले ही मुझे कोई याद करे या ना करे;
हर अपने को याद करना आदत है मेरी;
सुप्रभात!


मौसम की बहार अच्छी हो;
फूलों की कलियाँ कच्ची हों;
हमारे ये रिश्ते सच्चे हो;
रब तेरे से बस एक ही दुआ है कि;
मेरे यार की हर सुबह अच्छी हो।
सुप्रभात!


इसलिए मुस्कुरा के करना दिन की शुरुआत।
सुप्रभात!


कभी सुबह सुहानी होगी;
जब रात आपकी दीवानी होगी;
खूब मिलेंगे दुनिया की राहों में;
जो हमसे आपकी कहानी होगी।
सुप्रभात!


उठकर देखिये सुबह का 'नजारा;'
हवा भी है ठंडी और मौसम भी है प्यारा;
सो गया चाँद और छुप गया हर एक सितारा;
"क़बूल हो आपको" सलाम-ए-सुबह हमारा।
सुप्रभात!


जरा देखना उठ गए साहब नींद से या नहीं ए दिल;
सुना है बहुत सोते हैं ये हुस्न वाले।
सुप्रभात!


ए हवा तू उधर तो जाती होगी;
उनको हमारा हाल तो बताती होगी;
ज़रा छू कर तो देख उनके दिल को;
क्या याद उनको भी हमारी आती होगी।
सुप्रभात!


फिर उम्मीदों भरी सुबह आई है;
सूरज को साथ लाई है;
हमारी दोस्ती का ये असर तो देखो;
कि हवायें भी आपको "गुड मॉर्निंग" कहने आई हैं।
सुप्रभात!

सोचा किसी अपने से बात करें;
अपने किसी ख़ास को याद करें;
किया जो फैसला सुबह की शुभकामनायें देने का;
दिल ने कहा क्यों ना आप से शुरुआत करें।
सुप्रभात!

जाने कब सुबह-सुबह वो रिश्ता बन गया;
अनजाना जाने कब अपना बन गया;
हमें एहसास भी न हुआ और;
कोई हमारी सुबह की जरुरत बन गया।
सुप्रभात!


तेरी हर सुबह मुस्कुराती रहे;
तेरी हर शाम गुनगुनाती रहे;
तू जिसे भी मिले इस तरह से मिले;
कि हर मिलने वाले को तेरी याद आती रहे।
सुप्रभात!




रात के बाद सुबह को आना ही था;
गम के बाद ख़ुशी को आना ही था;
क्या हुआ अगर हम देर तक सोये रहे;
पर हमारा मोर्निंग मैसेज तो आना ही था।
सुप्रभात!

कोशिश करो कि ज़िन्दगी का हर लम्हा अच्छे से अच्छा गुजरे;
क्योंकि जिंदगी नहीं रहती पर अच्छी यादें हमेशा जिंदा रहती हैं।
सुप्रभात!


इंसान चेहरा तो साफ़ रखता है जिस पर लोगों की नज़र होती है;
मगर;
दिल को साफ़ नहीं रखता जिस पर 'अल्लाह' की नजर होती है।
सुप्रभात!


जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए मौसम नहीं मन चाहिए;
हर राह आसान हो जायेगी;
बस उसे करने के लिए दृढ़-संकल्प चाहिये।
सुप्रभात!

जिस काम को करने में डर लगता है;
उसी को करने का नाम साहस है।
सुप्रभात!



'सुबह' के "फूल खिल" गए;
'पंछी' अपने 'सफ़र' पे 'उड़' गए;
'सूरज' आते ही 'तारे' भी 'छुप' गए;
क्या आप अपनी "मीठी नींद" से "उठ गए?"
सुप्रभात!


आज का दिन आपको हर वो ख़ुशी दे;
जिसकी आप खुदा से उम्मीद रखते हो।
सुप्रभात!


गुलशन में भंवरों का फेरा हो गया;
पूरब में सूरज का डेरा हो गया;
मुस्कान के साथ आँखें खोल प्यारे;
एक बार फिर से सवेरा हो गया।
गुड मॉर्निंग!



सूरज के बिना सुबह नहीं होती;
चाँद के बिना रात नहीं होती;
बादल के बिना बरसात नहीं होती;
आपकी याद के बिना दिन की शुरुआत नहीं होती।
सुप्रभात!

ना मंदिर ना भगवान;
ना पूजा न स्नान;
दिन होते ही हमारा सबसे पहला काम;
एक प्यार सा SMS अपने ख़ास दोस्त के नाम।
गुड मॉर्निंग!

हर सुबह की धूप कुछ याद दिलाती है;
हर फूल की खुशबु एक जादू जगाती है;
मानो ना मानो पर सच है मेरे यार;
सुबह होते ही आपकी याद आ जाती है।
गुड मॉर्निंग!

सूरज उनको मेरा पैगाम देना;
ख़ुशी का दिन और हसी की शाम देना;
जब वो देखें तुझे बाहर आकर; 
तो उनको मेरा सलाम देना।
सुप्रभात!



इस प्यारी सी सुबह में;
प्यारे से मौसम में;
प्यारी सी कोयल की आवाज;
प्यारी सी हवाओं में;
सबसे प्यारे इंसान और सबसे प्यारे दोस्त को;
मेरी तरफ से "गुड मॉर्निंग" का पैगाम।

अल्लादीन के पास था एक जादुई जिन;
दिल नहीं लगता हमारा आपके बिन;
स्टेनलेस स्टील में होता है 0.2% टिन;
खुदा करे मस्त जाए आपका आज का दिन।
सुप्रभात!


जिसकी सुबह अच्छी, उसका दिन अच्छा;
जिसकी शाम अच्छी, उसकी रात अच्छी;
जिसका दोस्त अच्छा;
उसकी पूरी जिंदगी अच्छी।
सुप्रभात!


दिल को दिल से चुराया तुमने;
मुझे अपना बनाया तुमने;
कभी भूल नहीं पायेंगे तुम्हें ऐ दोस्त;
क्योंकि दोस्ती करना सिखाया तुमने।
सुप्रभात!


सवेरे-सवेरे हो खुशियों का मेला;
ना लोगों की परवाह ना दुनिया का झमेला; 
चिड़ियों की संगीत हो; 
और मौसम अलबेला; 
मुबारक हो आपको आज का सवेरा।
गुड मॉर्निंग!








हर सपने को अपनी साँसों में रखो;
हर मंजिल को अपनी बाहों में रखो;
हर जीत आपकी है;
बस अपने लक्ष्य को अपनी निगाहों में रखो।
सुप्रभात!


आज के लिए सुनहरे शब्द:
जिंदगी में अच्छे लोगों की तलाश ना करो;
खुद अच्छे बन जाओ;
शायद आपसे मिलकर किसी की तलाश पूरी हो जाए।
सुप्रभात!


सुबह जल्दी उठकर;
नहा कर साफ़ कपड़े पहनकर;
भगवान के सामने बैठकर;
आँखें बंद करके सच्चे मन से पूछना;
भगवान जब तू अकल बांट रहा था;
उस वक्त मैं कहाँ था?
गुड मॉर्निंग!


दो अक्षर का होता है लक; 
ढाई अक्षर का होता है भाग्य; 
तीन अक्षर का होता है नसीब; 
साढ़े तीन अक्षर का होती है किस्मत; 
पर ये सब चार अक्षर की मेहनत से होते हैं।
गुड मॉर्निंग!




सुबह का हर पल अरमान बनके आये; दिन का उजाला नई शान बनकर आये; 
चमकती रहे आपके चेहरे पर हंसी; 
हर नया दिन ऐसा मेहमान बनकर आये।
गुड मॉर्निंग!


फिजा में महकती शाम हो तुम;
प्यार में झलकता जाम हो तुम;
सीने में छुपाए फिरते हैं हम यादें तुम्हारी;
इसलिए मेरी जिंदगी का दूसरा नाम हो तुम।
सुप्रभात!


दोस्ती एक प्यार भरा पैगाम है;
ये तो सबसे खूबसूरत रिश्ते का नाम है;
आंसू के बदले हंसी देना इसका काम है;
इस मजबूत बंधन को दिल से सलाम है। सुप्रभात!




इन बादलों का मिज़ाज खूब मिलता है मेरे अपनों से; 
कभी टूट के बरस जाते हैं; 
तो कभी बे-रुखी से गुजर जाते हैं। 
सुप्रभात!

ईश्वर कहते हैं उदास ना हो मैं तेरे साथ हूँ;
सामने नहीं आस पास हूँ;
पलकों को बंद कर और दिल से याद कर;
मैं कोई और नहीं तेरा विश्वास हूँ।


रात ने चादर समेट ली है; 
सूरज ने किरणें बिखेर दी है; 
चलो उठो और शुक्रिया करो अपने भगवान का; 
जिसने हमें ये प्यारी सुबह दी है।
गुड मॉर्निंग!


प्यारी सी सुबह में प्यारे से पंछी;
प्यारे सी किरणें, प्यारी सी ओंस की बूँदें; 
प्यारी सी ठंडी सी हवाओं के साथ; 
एक प्यारे से दोस्त का प्यारा सा दिन जाये।
गुड मॉर्निंग!


कोई-कोई शख्स इतना ख़ास होता है;
नजरों से दूर पर यादों में पास होता है;
कभी-कभी ही आता है मैसेज उनका;
पर हर मैसेज से अपनेपन का एहसास होता है।
गुड मॉर्निंग!


जन्म अपने हाथ में नहीं;
मरना अपने हाथ में नहीं;
पर जीवन को अपने तरीके से जीना अपने हाथ में होता है; करो मुस्कुराते रहो;
सबके दिलों में जगह बनाते रहो।
गुड मॉर्निंग!


सोचते हैं कि गुलाब भेज दें;
चाहते तो हैं कि सारा जहाँ भेज दें;
मैं तो जा रहा हूँ सोने;
दिल तो करता है आपकी पलकों पे एक प्यारा सा ख्वाब भेज दें।
गुड मॉर्निंग!



दिल में अपने एक अरमान लगाये बैठे हैं;
भीड़ में दुनिया की अपनी पहचान बनाये बैठे हैं;
ना होना कभी उदास अए मेरे दोस्त;
दिल में आपकी हंसी की आस लगाये बैठे हैं।
गुड मॉर्निंग!



तेरी सोच ने तुझे महदूद रखा है ए दोस्त;
वर्ना
हम तुझे तेरी सोच से भी ज्यादा याद करते हैं।
गुड मॉर्निंग!



मीठी नींद से आप उठ जाओ;
हकीकत की दुनिया में आ जाओ;
सूरज आया है नए काम के साथ;
चलो उठो और आप भी काम पर लग जाओ।
गुड मॉर्निंग!




गुजर गई वो सितारों वाली सुनहरी रात;
आ गई याद वही तुम्हारी प्यारी सी बात;
अक्सर होती रहती थी हमारी मुलाक़ात;
बिन आपके होती है अब तो दिन की शुरुआत।
गुड मॉर्निंग!


सुप्रभात का उजाला सदा आपके साथ हो;
हर दिन का एक-एक पल आपके लिए कुछ ख़ास हो;
दुआ हमेशा निकलती है दिल से आपके लिए;
ढ़ेरों खुशियों का खजाना आपके पास हो।
गुड मॉर्निंग!


एक नई सी सुबह चुरा के लाये हैं;
दिल में एक नया एहसास भरने आये हैं;
नींद की खामोशी में जो लिपटे हुए हैं;
उन्हें प्यार से जगाने आये हैं।
गुड मॉर्निंग!


फूलों के खिलने का वक्त हो गया;
सूरज के निकलने का वक्त हो गया;
मीठी सी नींद से जागो सपनों से;
हकीकत में आने का वक्त हो गया।
गुड मॉर्निंग!


सुबह आँख खोली तो प्यारी सी सुबह बोली;
उठकर देख क्या नजारा है;
मैंने कहा रुक पहले सलाम भेज दूं उस दोस्त को;
जो सुबह से भी प्यारा है।
सुप्रभात!




उठकर देखिये सुबह का नज़ारा;
हवा भी है ठंडी मौसम भी है प्यारा;
सो गया चाँद और छुप गया हर एक तारा;
कबूल करिए आप "सलाम-ऐ-सुबह हमारा।"
गुड मॉर्निंग!


नया सवेरा नई किरण के साथ;
नया दिन एक प्यारी सी मुस्कान के साथ;
आपको नया दिन मुबारक हो;
ढ़ेर सारी दुआओं के साथ।
गुड मॉर्निंग!



लोग रूप देखते हैं;
हम दिल देखते हैं;
लोग सपना देखते हैं;
हम हक़ीकत देखते हैं;
बस फर्क इतना है कि;
लोग दुनिया में दोस्त देखते हैं;
हम दोस्तों में दुनिया देखते हैं।
गुड मॉर्निंग!


रात का अंधेरा एक ख्वाब लाता है;
दिन का उजाला एक इंतजार लाता है;
आप साथ हो न हों;
हवा का हर झोंका आपका एहसास लाता है।
गुड मॉर्निंग!


सुना है किसी को "गुड मॉर्निंग" कहो तो उसकी सुबह अच्छी होती है; 
पर हमने तो ये महसूस किया है कि "गुड मॉर्निंग" आपको कहें, तो दिन हमारा अच्छा होता है।
गुड मॉर्निंग!


जिंदगी गुजरे हँसते-हँसते;
प्यार और ख़ुशी मिले रस्ते-रस्ते;
हो मुबारक आपको नया सवेरा;
कबूल करें हमारा सलाम-नमस्ते।
गुड मॉर्निंग!


लोग कहते हैं अगर सुबह अच्छे लोगों को याद किया जाए तो दिन बड़ा अच्छा गुजरता है;
तो मैंने सोचा आपको अपनी याद दिला दूं।
गुड मॉर्निंग!


खिलखिलाती सुबह, ताज़गी से भरा सवेरा है;
फूलों और बहारों ने आपके लिए रंग बिखेरा है;
सुबह कह रही है जाग जाओ;
आपकी मुस्कुराहट के बिना सब अधूरा है।
गुड मॉर्निंग!


नई सी सुबह नया सा सवेरा;
सूरज की किरणों में हवाओं का बसेरा;
खुले आसमान में सूरज का चेहरा;
मुबारक हो आपको ये हसीन सवेरा।
गुड मॉर्निंग!


आपकी हर सुबह मुस्कान के साथ हो;
आपकी हर शाम खुशियों से भरी हो;
तू जो पाना चाहे वो तुझे आसानी से मिले;
यही मेरी दिल से कामना है।
गुड मॉर्निंग!


दीपक में अगर नूर न होता;
तन्हा दिल मजबूर न होता;
हम आपको "गुड मॉर्निंग" कहने जरूर आते;
अगर आपका घर इतना दूर न होता।
गुड मॉर्निंग!


सुबह-सुबह सताना अच्छा लगता है;
मीठी नींद से जगाना अच्छा लगता है;
जब याद आती है किसी की;
तब उसे भी अपनी याद दिलाना अच्छा लगता है।
गुड मॉर्निंग!


बिन सावन बरसात नहीं होती;
सूरज डूबे बिना रात नहीं होती;
अपनी तो आदत ही है ऐसी;
आपको sms किये बिना दिन कि शुरुआत नहीं होती।
सुप्रभात!




आपका 'मुस्कुराना' हर रोज हो;
कभी चेहरा 'कमल' तो कभी 'रोज' हो;
100 पल ख़ुशी हज़ार पल 'मौज़' हो;
बस ऐसा ही दिन आपका हर 'रोज़' हो।
सुप्रभात!


एहसास तेरा जिस पल नहीं होता;
साँसों का सिलसिला मुक़म्मल नहीं होता;
मोबाइल का inbox भी खूबसूरत नहीं होता;
जब इसमें आपका प्यारा सा SMS नहीं होता।
गुड मॉर्निंग!




नाम आपका पल-पल लेता है कोई;
याद आपको हर पल करता है कोई;
एहसास तो शायद आपको भी है;
कि दूर रह कर भी आपको हर पल याद करता है कोई।
गुड मॉर्निंग!


सुबह-सुबह पलंग से उठ कर;
रात की मीठी सी नींद के बाद;
सुबह की ताज़ी किरणों के साथ;
हम आपको कहते हैं "गुड मॉर्निंग" अपने प्यारे से SMS के साथ।


हॉट टी (Tea) आपके बैड पे है;
सूरज की किरणें आपके हैड पे हैं;
न्यूज़ पेपर आपके गेट पे है;
अब तो उठ जाइये;
कोई आपके SMS की वेट (wait) में है।
गुड मॉर्निंग!


पानी की बूंदें फूलों को भिगो रही हैं;
ठंडी लहरें एक ताज़गी जगा रही हैं;
हो जाएँ आप भी इनमें शामिल;
एक प्यारी सी सुबह आपको जगा रही है।
सुप्रभात!






सुबह का हर पल ज़िंदगी दे आपको;
दिन का हर लम्हा खुशी दे आपको;
जहाँ ग़म की हवा छू कर भी न गुज़रे;
ख़ुदा वो जन्नत सी ज़मीन दे आपको।
सुप्रभात







सुबह की किरण बोली मुझसे, उठकर देखो कितना हसीन नज़ारा है;
मैंने कहा रुक पहले उसे SMS तो कर लूँ, जो इस सुबह से भी प्यारा है।
गुड मॉर्निंग!


लबों पे मुस्कान आँखों में ख़ुशी;
गम का कहीं काम ना हो;
हर दिन लाये आपके लिए इतनी खुशियाँ;
जिसके ढलने की कोई शाम ना हो।
गुड मॉर्निंग!


भुला देना उसे जो रुला जाये;
याद रखना उसे जो निभा जाये;
वादा आपसे करेंगे बहुत लोग;
मगर दिल की बात कहना उसी से, जिसके बिना एक पल भी न रहा जाये।
गुड मॉर्निंग!


धड़कन हमारी तुमसे जो कहे;
साँसों को भी उसकी खबर न लगे;
बहुत खूबसूरत है दोस्ती हमारी;
दुआ है खुदा से इसको किसी की नजर न लगे।
गुड मॉर्निंग!


नए दिन की नई सुबह का नया नया अंदाज़;
सारे दिन की झोली में कुछ छुपे हुए हैं राज़;
तुझको मुझ को हर किसी को मिलना है कुछ आज;
तो आओ यारो ख़ुशी ख़ुशी कर लें दिन का आगाज़।
सुप्रभात!


सूरज की पहली किरण ख़ुशी दे आपको;
दूसरी किरण हंसी दे आपको;
तीसरी किरण तंदरुस्ती और कामयाबी;
बस अब ज्यादा नहीं, वरना गर्मी लगेगी आपको।
सुप्रभात!



ना मंदिर ना भगवान;
ना पूजा ना स्नान;
दिन होते ही हमारा सबसे पहला काम;
एक प्यारा सा संदेश अपने दोस्तों के नाम।
सुप्रभात!


सुबह सुबह सूरज का साथ हो;
परिंदों की आवाज़ हो;
हाथ में चाय और यादों में आप हों;
खुश नुमा सुबह की क्या बात हो।
सुप्रभात!


उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको;
खिलता हुआ फूल खुश्बू दे आपको;
हम तो कुछ भी देने के काबिल नहीं;
देने वाला हज़ार ख़ुशियाँ दे आपको।
सुप्रभात!


हर सुबह की धुप कुछ याद दिलाती है;
हर फूल की खुश्बू एक जादू जगाती है;
मानो या ना मानो पर सच है मेरे यार;
सुबह होते ही मेरी याद आती है।
सुप्रभात!


मौसम की बहार अच्छी हो;
फूलों की कलियां कच्ची हो;
हमारी यह दोस्ती सच्ची हो;
बस एक ही दुआ है मेरे दोस्त की हर सुबह अच्छी हो।
सुप्रभात!


सुबह का मौसम जैसे जन्नत का एहसास;
आँखों में नींद और चाय की तलाश;
जागने की मज़बूरी थोड़ा और सोने की आस;
पर आपका दिन शुभ हो हमारी सुप्रभात के साथ।
सुप्रभात!




आपका मुस्कुराना हर रोज़ हो;
कभी चेहरा कमल तो कभी रोज हो;
100 पल ख़ुशी, 1000 पल मौज हो;
बस ऐसा ही आपका दिन हर रोज़ हो।
सुप्रभात!


रात पे सवेरा छा गया;
सूरज रौशनी के साथ आ गया;
यह माहौल सुबह का सब को भा गया;
और आप ने आँख खोली तो सन्देश हमारा आ गया।
सुप्रभात!


सुबह के फूल खिल गए;
पंछी अपने सफ़र पे उड़ गए;
सूरज के आते ही तारे छुप गए;
क्या आप भी मीठी नींद से उठ गए!
सुप्रभात!


लो आज हम ने आप को पहले याद किया;
इस खूबसूरत सुबह को आप के नाम किया;
अच्छा गुज़रे यह दिन आप का;
दिल से हमने यह पैगाम दिया।
सुप्रभात!


प्यारी सी सुबह में प्यारे से पंछी;
प्यारे से किनारे, प्यारी सी ओंस की बूँदें;
प्यारी सी ठंडी हवाएँ;
एक प्यारे से दोस्त को प्यारा सा दिन दे जाए।
सुप्रभात!



बहारों का समय होता है आपके आने से;
फूल खिलते हैं आपकी आहट से;
ज्यादा मत सोईए जनाब;
क्योंकि हर सुबह होती है आपके मुस्कुराने से।
सुप्रभात!


सूरज तुम उनको मेरा पैगाम देना;
ख़ुशी का दिन और हँसी की शाम देना;
जब वो देखे तुझे बाहर आ कर;
तो उनको मेरा सलाम देना!
सुप्रभात!


फूलों की वादियों में हो बसेरा आपका;
सितारों के आँगन में हो सवेरा आपका;
दुआ है एक दोस्त की दोस्त के लिए;
हमसे भी खूबसूरत हो नसीब आपका।
सुप्रभात!




फूलों ने अमृत का जाम भेजा है;
सूरज ने गगन से सलाम भेजा है;
मुबारक हो आपको नयी सुबह;
तहे-दिल से हमने यह पैगाम भेजा है।


पैगाम है ये दिल से दिल तक;
आसमां के तारों से समंदर के साहिल तक;
हम तो साथ हैं ख़ुशी से ग़म तक;
बस आप खुश रहें सुबह से शाम तक!
सुप्रभात!


प्यारे से दोस्त को सलाम हमारा;
आप कैसे हैं, सवाल हमारा;
याद करते रहेंगे यह वादा हमारा;
फ़िलहाल कबूल कीजिए सुप्रभात हमारा!
सुप्रभात!



सूरज की पहली किरण, दिन का पहला पहर;
पंछियों की पहली चहचहाट, धूप का पहला रंग;
हवा की ठंडी सनसनाहट, सुबह का पहला खुमार।
हमारी तरफ से आप सब को सुप्रभात!
सुप्रभात!



ख़ुशी का हर पल हो तुम्हारे लिए;
बहारों का गुलिस्तां हो तुम्हारे लिए;
कामयाबी की मंज़िल हो तुम्हारे लिए;
बस एक पल तुम्हारा हो हमारे लिए!
सुप्रभात!

बड़े अरमां से बनवाया है, इसे रौशनी से सजाया है;
बहुत दूर से मंगवाया है;
ज़रा खिड़की खोल के देखो;
आपको सुप्रभात कहने सूरज आया है!
सुप्रभात!

सुबह-सुबह सूरज का साथ हो;
परिंदों की आवाज़ हो;
हाथ में चाय और यादों में आप हो;
उस खुशनुमा सुबह की क्या बात हो!
सुप्रभात!

फ़िज़ा बनकर आपके करीब आये हैं;
एक प्यारी सुबह आपके लिए लाए हैं;
नई उम्मीदों के साथ जीवन की नई शुरुआत कीजिए;
हज़ारों दुआ अपने संग लाए हैं।
सुप्रभात!

उठ कर देखिए सुबह का नज़ारा;
हवा भी है ठंडी, मौसम भी है प्यारा;
सो गया चाँद, और छुप गया हर एक सितारा;
क़बूल हो आपको सलाम-ए-सुबह हमारा!
सुप्रभात!


सुबह का मौसम और आपकी याद;
हलकी सी ठंडक और चाय की प्यास;
यारों की यारी और यारी की मिठास;
शुरू कीजिए अपना दिन मेरी सुप्रभात के साथ।
सुप्रभात!


ना सर्दी ना जुकाम;
ना नमस्ते ना सलाम;
सुबह होते ही हमारा सबसे पहला काम;
एक प्यारा सा संदेश आपके नाम।
सुप्रभात!




सुबह में कोई मेरा संदेश आए तो;
यूँ ना समझना मैने आपको परेशान किया;
इसका मतलब है आप वो ख़ास हैं;
जिसे मैंने अपनी आँखें खुलते ही याद किया!
सुप्रभात!


लोग कहते हैं कि सुबह-सुबह अच्छे लोगों को याद करने से दिन अच्छा गुज़रता है।
इसलिए मैंने सोचा कि आपको अपनी याद दिल दूँ।
सुप्रभात!


जा चूका है अँधेरा;
रौशनी ने दिया है पहरा;
आपका और मेरा रिश्ता है गहरा;
मेरी तरफ से आपको हैप्पी सवेरा!
सुप्रभात


रहना तो चाहते थे साथ उनके;
पर इस ज़माने ने रहने ना दिया;
कभी वक़्त की ख़ामोशी में खामोश रहे;
तो कभी उनकी खामोशी ने कुछ कहने ना दिया।
सुप्रभात!


आप तो मंज़िल को मुश्किल समझते हैं;
हम आपको मंज़िल समझते हैं;
बड़ा फर्क है आपके और हमारे नज़रिए में;
आप हमें सपना और हम आप को अपना समझते हैं!
सुप्रभात!


चाहे आप सिर पीटो;
चाहे गुस्सा करो चाहे आप बिस्तर पे कूदो;
या मोबाइल उठा के फ़ेंक दो;
हम तो इतने बजे ही गुड मॉर्निंग कहेंगे!
सुप्रभात!


उदास ना होना क्योंकि मैं साथ हूँ;
सामने ना सही पर आस-पास हूँ;
पलकों को बंद करो जब भी देखोगे;
मैं हर पल तुम्हारे साथ-साथ हूँ।
सुप्रभात!


ज़िंदगी किसी के लिए नहीं रूकती, बस जीने की वजह बदल जाती है।
सुप्रभात!

ये भी एक दुआ है खुदा से;
किसी का दिल ना दुखे मेरी वजह से;
ऐ खुदा कर दे कुछ ऐसी इनायत मुझ पर, कि खुशियाँ ही खुशियाँ मिलें सबको मेरी वजह से।
सुप्रभात!


नई उम्मीदों से सुबह की बात करते हैं;
हाथ से हाथ मिलाने की बात करते हैं;
आशाओं तम्मनाओं का नाम ही है जीना;
कुछ ऐसे ही जीने की बात करते हैं।
सुप्रभात!




सूरज की किरण रौशनी लाती है;
उठते ही आपकी याद आती है;
हम तो जाग गए आपकी यादों की दस्तक से;
अब देखना है आपको हमारी याद कब आती है।
सुप्रभात!


सुबह सुबह ज़िन्दगी की शुरुआत होती है;
किसी अपने से बात हो तो खास होती है;
हंस के प्यार से अपनों को सुप्रभात बोलो तो;
खुशियाँ अपने आप साथ होती हैं!
सुप्रभात!


सोया रहने दे मेरे दोस्त को यूँ नींद के ठंडे आग़ोश में;
कहीं वो उठ ना जाए ऐ सूरज ज़रा ठहर के निकलना।
सुप्रभात!


फूल बिना खुशबू बेकार है;
चाँद बिना चाँदनी बेकार है;
प्यार बिना ज़िंदगी बेकार है;
और मेरे सुप्रभात संदेश के बिना आपका दिन बेकार है।
सुप्रभात!


प्यारी-प्यारी सुबह है, बूँदों की बरसात है;
हवा भी थोड़ी ठंडी है, मौसम भी अनुकूल है;
प्यारी-प्यारी सुबह है, बस कहना सुप्रभात है।
सुप्रभात!


आज सुबह सूरज बिलकुल आप जैसा निकला;
बिलकुल वही खूबसूरती;
वही नूर, वही गुरूर, वही सरूर;
और वही आपकी तरह हमसे दूर।
सुप्रभात!


रात गुजरी फिर महकती सुबह आई;
दिल धड़का फिर तुम्हारी याद आई;
आँखों ने महसूस किया उस हवा को;
जो तुम्हें छू कर हमारे पास आई।
सुप्रभात!


जब भी आप दिल से मुस्कुरायोगे;
मुस्कुराहट में मेरी सूरत पाओगे;
हम ना छोड़ेंगे साथ कभी आपका;
जिस तरफ देखोगे, हम को ही पाओगे।
सुप्रभात!


इस क़दर दूर होकर दूरियां बढ़ाया नहीं करते;
चाहने वालों को इस क़दर तड़पाया नहीं करते;
सुबह उठते ही जो सोचे सिर्फ नाम आपका;
उनको बे-वजह यूँ सताया नहीं करते।
सुप्रभात!


अच्छे लोगों की सबसे बड़ी खूबी यह होती है कि उन्हें याद रखना नहीं पड़ता, वो याद रह जाते हैं।
आपका दिन मंगलमय हो!
सुप्रभात!




तुम जिसे चाहो अपना अंदाज़ दे देना;
हक़ इतना सा मुझे आज दे देना;
नज़रें दुनियां की जब तुम्हें तन्हा छोड़ दें;
बस उस मोड़ पर मुझे एक आवाज़ दे देना।


सुबह-सुबह की पहली सुनहरी किरण;
मेरे ऊपर आई और कान में धीरे से कहा;
कि चलो अब जल्दी से उठ जाओ;
दोस्तों को तंग करने का टाइम हो गया है।
सुप्रभात!

दिल में चाहत का होना जरूरी है;
वरना याद तो रोज दुश्मन भी किया करते हैं।
सुप्रभात!

एक और प्यारी सी सुबह हो गई;
ज़िंदगी की खुशनुमा फ़िज़ा हो गई;
मुबारक हो आपको आज का दिन;
जिसमें शामिल आपकी दुआ हो गई।
सुप्रभात!



सेवा करने की शिक्षा सूर्य से लेनी चाहिए;
जो हमेशा नित्य प्रतिदिन संसार को रौशन करने के लिए प्रकट हो जाता है।
सुप्रभात!


नई सुबह इतनी सुहानी हो जाए;
आपके दुखों की सारी बातें पुरानी हो जाएं;
दे जाए इतनी खुशियां ये दिन आपको;
कि ख़ुशी भी आपकी मुस्कुराहट की दीवानी हो जाएं।
सुप्रभात!


हर सुबह तेरी मुस्कुराती रहे;
हर शाम तेरी गुनगुनाती रहे;
मेरी दुआ हैं की तू जिस भी मिलें;
हर मिलने वाले को तेरी याद सताती रहे।
सुप्रभात!


सुबह शाम तेरी चाहत करूँ;
तुझसे ना कभी कोई शिकायत करूँ;
तेरे हसीं लबों पे यूं ही मुस्कान बरक़रार रहे सदा;
मुझमे समाये रहो मेरी धड़कन बनकर;
चाहकर भी तुझको खुद से जुदा ना करूँ।
सुप्रभात!


अज़ीज़ भी वो हैं, नसीब भी वो हैं;
दुनिया की भीड़ में करीब भी वो हैं;
उनके आशीर्वाद से हैं चलती ज़िंदगी;
खुदा भी वो हैं और तकदीर भी वो हैं।
सुप्रभात!


इस प्यारी सी सुबह में, प्यारे से मौसम में;
प्यारी सी कोयल की आवाज, प्यारी सी हवाओं में;
सबसे प्यारे इंसान और सबसे प्यारे दोस्त को प्यारी सी सुप्रभात।
सुप्रभात!




जिन्हें ख्वाब देखना अच्छा लगता है, उन्हें रात छोटी लगती है;
और जिन्हें ख्वाब पूरे करना अच्छा लगता है, उन्हें दिन छोटा लगता है।
सुप्रभात!


सजती रहे खुशियों की महफ़िल;
लेकिन हर ख़ुशी सुहानी रहे;
आप जिंदगी में इतने खुश रहें;
कि हर ख़ुशी आपकी दीवानी रहे।
सुप्रभात!


सुहानी सुबह में सूरज का साथ हो;
गुन-गुनाते पंछियों की आवाज हो;
हाथ में चाय का प्याला हो;
और मन में एक दूसरे की याद हो;
ऐसी ही हमारी और तुम्हारी सुप्रभात हो।
सुप्रभात!


बहार आती है आपके गुन गुनाने से;
फूल खिलते हैं आपके मुस्कुराने से;
अब जाग भी जाओ, मेरे प्यारे दोस्त; क्योंकि हर सुबह होती है आपके चह-चहाने से।
सुप्रभात!




सूरज तू उनको मेरा पैगाम देना;
ख़ुशी का दिन और हंसी की सुबह देना;
जब वो देखें तुझे बाहर आकर;
तो उनको मेरा सुप्रभात कहना।


हर सुबह निकल पड़ता है जो खुद की तलाश में;
वो खोई हुई सी एक पहचान हूँ मैं;
ना आँखों में ख्वाब है ना दिल में तमन्ना कोई;
अपनी बनाई हुई राहों से ही अनजान हूँ मैं।
सुप्रभात!




उजाला काफी हो चुका है;
उस शमा को बुझा दो;
एक हसीं सुबह राह देख रही है आपकी;
बस पलकों को हलके से उठा दो।
सुप्रभात!


ये राहें ले ही जाएंगी मंज़िल तक, हौंसला रख;
कभी सुना है कि अँधेरे ने सवेरा होने न दिया हो।
सुप्रभात!


फूलों की वादी में हो बसेरा आपका;
सितारों के आँगन में हो घर आपका;
दुआ है एक दोस्त की यही कि;
सारे जहां से खूबसूरत हो सवेरा आपका।
सुप्रभात!


सुबह-सुबह एक पैगाम देना है;
आपको सुबह का पहला सलाम देना है;
गुज़रे सारा दिन आपका ख़ुशी में;
आपकी सुबह को खूबसूरत सा नाम देना है।
सुप्रभात!


जैसे नींद आती है सपने लेकर...काश! वैसे ही आज की सुबह आए, आपके लिए बहुत सारी खुशियाँ लेकर।
सुप्रभात!


ऐसे ख़ुशियों से तेरा नाता गहरा हो;
तू जहाँ रखे कदम तो रौशन चार-चुफेरा हो;
तू सोये तो मन-पसंद सपने देखे;
जब आँख खुले तो सब कुछ तेरा हो।
सुप्रभात!


जैसे सूरज के बिना सुबह नहीं होती;


सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है;
आँख खुलते ही आपकी याद होती है;
खुशियों के फूल हों आपके आँचल में;
ये मेरे होंठों पे पहली फरियाद होती है।
सुप्रभात!


कायनात के सारे रंग;
रंगों के सारे फूल;
फूलों की सारी खुशबू;
खुशबू की सारी ख़ुशी;
ख़ुशी के हर लम्हें;
और इन लम्हों से भरपूर ज़िंदगी की दुआ सिर्फ आप के नाम।
सुप्रभात!


रात की तन्हाई में तो हर कोई याद कर लेता है ए दोस्त;
सुबह उठते ही जो याद आये दोस्ती उसे कहते हैं।
सुप्रभात!


हर सुबह की धूप कुछ याद दिलाती है;
हर फूल की खुशबू एक जादू जगाती है;
तुम मानो न मानो पैर यह सच है मेरे यार;
सुबह होते ही तुम्हारी याद आ जाती है।
सुप्रभात!

सुबह की हलकी रौशनी, परिंदो के सुरीले गीत,
हवा के मधेयम झोंके, रंग बिरंगे फूलों की दीद।
सुप्रभात!


सूरज निकल रहा है पूरब से;
दिन शुरू हुआ आपकी याद से;
कहना चाहते हैं हम आपको दिल से;
हर दिन हो जाये अच्छा आपकी प्यारी सी मुस्कान से।
सुप्रभात!


नयी-नयी सुबह, नया-नया सवेरा;
सूरज की किरणों में हवाओं का बसेरा;
खुले आसमान में सूरज का सवेरा;
मुबारक़ हो आपको ये हसीं सवेरा।


हर फूल आपको अरमान दे;
हर सुबह आपको सलाम दे;
अगर आपका एक आँसू भी निकले,
तो खुदा आपको उससे दोगुनी मुस्कान दे।
सुप्रभात।



सुबह-सुबह आपको सताना अच्छा लगता है;
प्यारी नींद से जगाना हमें अच्छा लगता है;
जब याद किसी की आती हैं हमें;
तो उसे अपनी याद दिलाना भी अच्छा लगता है।
सुप्रभात!


रात की मीठी सी नींद के बाद;
रात के कुछ सुनहरे लम्हों के बाद;
सुबह के कुछ हसीन सपनों के साथ;
ज़िंदगी में कुछ प्यारे अपनों के साथ;
आप को हमारी ओर से सुप्रभात।


ये खूबसूरत फ़िज़ाओं में फूलों की खुशबु हो;
सुबह की किरण में पंछियों की आवाज़ हो;
कभी भी खोलो अपनी ये निगाहें;
उन निगाहों में सिर्फ खुशियों की झलक हो।
सुप्रभात!


सुबह का उजाला हर आपके साथ हो;
हर दिन का एक-एक पल आपके लिए कुछ खास हो;
दुआ हर पल निकलती है सच्चे दिल से;
ढेरों खुशियों का खज़ाना आपके पास हो।
सुप्रभात!

तुम्हारी पसंद हमारी चाहत बन जाये;
तुम्हारी मुस्कुराहट दिल की राहत बन जाये;
खुदा खुशियों से इतना खुश कर दे आपको;
कि आपको खुश देखना हमारी आदत बन जाये।
सुप्रभात!


इतना इंतज़ार तो अपनी धड़कनों का नहीं;
जितना आपकी आँखों का करते हैं;
इतना इंतज़ार तो अपनी साँसों का नहीं;
जितना आपसे मुलाक़ात का करते हैं।
सुप्रभात!


मत मुस्कुराओ इतना कि फूलों को खबर लग जाये;
हम करें आपकी तारीफ और आपको नजर लग जाये;
खुदा करे खुशियों से भरी हो आपकी जिंदगी;
करते हैं ये दुआ कि इसको किसी की नज़र न लग जाये।
सुप्रभात!


कभी ये धड़कन आपसे जो भी कहे;
फिर साँसों को भी उसकी ख़बर न हो;
बहुत गहरा है ये रिश्ता हमारा;
करते हैं दुआ कि किसी की नज़र न लगे।
सुप्रभात!


ऐ सुबह तुम जब भी आना;
सब के लिए बस खुशियाँ लाना;
हर चेहरे पर हँसी सजाना;
हर आँगन में फूल खिलाना।
सुप्रभात!




सुना है किसी को सुप्रभात कहो तो उसकी सुबह अच्छी होती है;
पर हमने तो यह महसूस किया है कि
'सुप्रभात' आपको कहें तो दिन हमारा अच्छा होता है।
सुप्रभात!


सुबह-सुबह सूरज का साथ हो;
गुनगुनाते परिंदो की आवाज़ हो;
हाथ में चाय का कप और यादों में कोई खास हो;
दुआ है ये हमारी कि उस ख़ूबसूरत सुबह की पहली याद आप हों।
सुप्रभात!






सुबह सुबह ज़िन्दगी की शुरुआत होती है;
किसी अपने से बात हो तो हर सुबह खास होती हैं;
हंस के प्यार से अपनों को सुप्रभात बोल दो;
फिर तो ख़ुशी अपने आप साथ होती है।
सुप्रभात!


सुबह-सुबह सूरज का साथ हो;
गुनगुनाते परिंदों की आवाज़ हो;
लबों पे दुआ-फरियाद हो;
और दुआ में भी आपका नाम हो।
सुप्रभात!

मेरी हर एक साँस मे तेरी खुश्बू बस जाती है;
हर साँस से पहले तेरी खुशबू आती है;
सो कर उठता हूँ जब हर सुबह;
तो दुआ से पहले तेरी याद आती है।
सुप्रभात!


आँखों में ख़ुशी, लबों पर हँसी, ग़म का कहीं नाम न हो;
हर सुबह लाये आपके लिए इतनी खुशियाँ जिसकी कभी शाम न हो।
सुप्रभात!


नयी सुबह का नया-नया नज़ारा;
ठंडी हवा लेकर आई है पैग़ाम हमारा;
खुशियों से भरा हो आज का यह दिन तुम्हारा।
सुप्रभात!


कभी खुशी की आशा, कभी गम की निराशा;
कभी खुशियों की धूप, कभी हक़ीक़त की छाया;
कुछ खोकर कुछ पाने की आशा;
शायद यही है ज़िंदगी की सही परिभाषा।
सुप्रभात!


उगता हुआ सूरज दुआ दे आपको;
खिलता हुआ फूल खुशबू दे आपको;
हम तो कुछ भी देने के काबिल नहीं;
देनेवाला हज़ार खुशियां दे आपको।
सुप्रभात!


जी भर के चाहूँ अगर तुझे गवारा हो;
बेताब मेरी नज़रें और सामने चेहरा तुम्हारा हो;
उठ कर सुबह जब खोलूं आँखें;
तो आँखों के सामने हसींन ये नज़ारा हो।
सुप्रभात!


सुकून हो तुम्हारे दिल में इस तरह;
फूलों में होती है खुश्बू जिस तरह;
खुदा तेरी ज़िंदगी में इतनी खुशियां;
धरती पे होती है बारिश जिस तरह।
सुप्रभात!


हो आपकी ज़िन्दगी में खुशियों का मेला;
कभी न आये कोई भी झमेला;
सदा सुखी रहे आपका बसेरा;
मुबारक हो आपको यह नया सवेरा।
सुप्रभात!


हर फूल मुबारक़ हो तुम को;
हर बहार मुबारक़ हो तुम को;
शायद कल हम रहें या न रहें;
पर दुआ है कि हर दिन मुबारक़ हो तुम को।
सुप्रभात!


नयी सी सुबह नया सा सवेरा;
सूरज की किरणों में हवाओं का बसेरा;
खुले आसमान में सूरज का चेहरा;
मुबारक हो आपको यह हसीन सवेरा।
सुप्रभात!


नये दिन की नयी सुबह का नया अंदाज़;
सारे दिन की झोली में कुछ छुपे हुए हैं राज़;
तुझको, मुझको हर किसी को मिलना है कुछ आज;
तो आओ यारो ख़ुशी-ख़ुशी करें इस दिन का आग़ाज़।
सुप्रभात!


हर सुबह आपको सलाम दे;
हर फूल आपको मुस्कान दे;
करते हैं यह दुआ हम खुदा से;
खुदा आपको नए सवेरे के साथ कामयाबी का आसमान दे।
सुप्रभात!


सूरज निकल रहा है पूरब से;
दिन शुरू हुआ आपकी याद से;
कहना चाहते हैं हम आपको दिल से;
आपका दिन अच्छा जाये हमारे सुप्रभात से।
सुप्रभात!


बिन बादल बरसात नहीं होती;
सूरज डूबे बिना रात नहीं होती;
क्या करें अब कुछ ऐसे हालात हैं;
आपको याद किये बिना दिन की शुरुआत नहीं होती।
सुप्रभात!


दुआ यही है हर पल मुस्कुराओ तुम;
कदम जहाँ रखो वहाँ खुशियां पाओ तुम;
कोई दर्द न आ पाये पास तुम्हारे;
चाहो तुम जिसको वो सदा साथ हो तुम्हारे।
सुप्रभात!


सूरज आता है नयी उम्मीदों की किरणें लेकर;
हर नया दिन आता है नयी कामयाबियाँ लेकर;
आपका हर दिन आये आपके लिए ढेर सारी खुशियां लेकर।
सुप्रभात!



सुबह-सुबह हो खुशियों का मेला;
न लोगों की परवाह न दुनिया का झमेला;
पंछियों का संगीत और मौसम अलबेला;
मुबारक हो आपको यह नया सवेरा।
सुप्रभात!


खुशियों से ऐसे नाता तेरा गहरा हो;
तू रखे जहाँ कदम वही पे सवेरा हो;
नींद में देखे तू मनपसंद सपने;
जब आँख खुली तो सब कुछ तेरा हो।
सुप्रभात!


सुबह-सुबह ज़िंदगी की शुरुआत होती है;
किसी अपने से बात ख़ास होती है;
हँस के प्यार से याद अपनों को करो;
तो खुशियाँ अपने आप साथ होती हैं।
सुप्रभात!


हर इनायत हर ख़ुशी आपकी हो;
महक उठे वो महफ़िल जिसमे हँसी आपकी हो;
कोई भी लम्हा आप उदास न हों;
खुदा करे जन्नत जैसी ज़िंदगी आपकी हो।
सुप्रभात!

फ़िज़ा बनकर आपके करीब आये हैं;
एक प्यारी सी सुबह आपके लिए लाये हैं;
नयी उम्मीदों के साथ जीवन की शुरुआत कीजिये;
हज़ारों दुआएं अपने साथ लाये हैं।
सुप्रभात!


ज़िंदगी कितनी खूबसूरत है?
यह देखने के लिए हमे ज्यादा दूर जाने की ज़रुरत नहीं है।
जहाँ हम अपनी आँखें खोल लें, वहीं हम इसे देख सकते हैं।
सुप्रभात!


सुबह-सुबह जब भी आपका मैसेज आये तो;
यूँ ना समझना मैंने आपको परेशान किया;
इसका मतलब है आप वो ख़ास हैं;
जिसे मैंने अपनी आँख खुलते ही याद किया।
सुप्रभात!


सूरज की पहली किरण ख़ुशी दे आपको;
दूसरी किरण हँसी दे आपको;
तीसरी तंदरुस्ती और कामयाबी;
बस अब ज्यादा नहीं वरना गर्मी लगेगी आपको।
सुप्रभात!

दुआ करते हैं कि हर सुबह सुहानी हो जाये;
आपके दुखों की सारी बात पुरानी हो जाये;
मिलें आपको खुशियां हर दिन इतनी;
कि खुशियां भी आपकी दीवानी हो जायें।
सुप्रभात!


वो अज़ीज़ भी हैं, वो नसीब भी हैं;
दुनिया की इस भीड़ में दिल के करीब भी हैं;
जिनके साथ से चलती है यह ज़िंदगी हमारी;
वो खुदा भी हैं और हमारी तकदीर भी हैं।
सुप्रभात!


आई है सुबह की नयी किरण रौशनी लेकर;
जैसे नए जोश की एक नयी किरण लेकर;
विश्वास की है ये लौ सदा दिल में जलाये रखना;
रुकना ना कभी मुश्किल को देख कदम सदा बढ़ाते रखना।
सुप्रभात!


इस मीठी सी प्यारी नींद के बाद;
नींद में देखे उन मीठे सपनो के बाद;
आया है यह सवेरा बड़ी दूर से;
कहने को आपको प्यार से सुप्रभात।
सुप्रभात!


सूरज आता है नयी उम्मीदों की किरणें लेकर;
हर नया दिन आता है नयी कामयाबियां लेकर;
आपका हर दिन आये आपके लिए ढेर सारी खुशियाँ लेकर।
सुप्रभात!


हर पल में प्यार है, हर लम्हे में ख़ुशी है;
खो दो यादें हैं जी लो तो ज़िंदगी है।
सुप्रभात!To to bhi vu hi

 You may also like


Reactions

Comments